तीन रंडियों के साथ एक रात

तीन रंडियों के साथ एक रात

आप सभी चुदाई के क्रान्तिकारों  को मेरी तरफ से बहुत सारा सम्मान | मेरा नाम एस.जी. खरे हैं और मेरी उम्र ३२ साल है | मै  अभी तक कुवारा हूँ , मेरे घर में मेरे मम्मी पापा और मै रहता हूँ  , मेरा घर महाराष्ट  के लोनावला  सिटी में है |  और मै  आप को कल की बात बताने जा रहा हूँ  |

मेरी कल की सेक्स स्टोरी , वैसे तो मै आए दिन जाता हूँ रंडी खाना चुदाई के महोत्सव में पर कल की कहानी कुछ आलग हैं | कल लगता है रंडियों को कुछ ज्यादा ही प्यार आ  गया था मेरे ऊपर सब की सब मुझसे ही चुदवाना चाहती थी बहनचोद |

तो हमेशा की तरह कल भी मै गया अपने चुदाई की रानियों के पास मतलब रंडी खाना | और जाते ही साथ वहां के मेनेजर को पैसा  दिया  और मेने अपनी वाली को  जिसके मै हमेशा चुदाई  करता था उसे अपने पास बुलाया , वो मेरे पास आई और मेरे बाजु में बैठ गयी पर जब में उसको उठा के अपने साथ ले के जाने लगा तो एक और मादरचोद  मेरे गले पड़ गई बोली जानू आज मेरे साथ चलो रोज तो उसके साथ जाते हो ,, आज मेरे साथ भीं बिस्तर गीला करवा लो फिर जो मेरे साथ थी उसने कहा की नहीं वो सिर्फ मेरे ही साथ ही जायगा और किसी के साथ  नहीं इतना  बोलने  के बाद उन दोनों तो मेरे लिए  लड़ने ही लगी और यहाँ मेरा दिमाग खराब होने लगा | मैंनेकहा चलो दोनों चलो दोनो के मुह में देता हूँ  आज | यार मुझे लगा उन दोने में से कोई एक न एक चली जायगी पर वो दोनों राजी हो गई चलने को | और तो और उसके बाद एक और लड़की पीछे से बोलती में भी चलूंगी तुम्हारे साथ आज तो | मेने बोला आज तीन तीन को लगाऊंगा क्या | ये सब सोच कर तो मेरा खड़ा लंड सो गया | मैने मैनेजर को और पैसे दिए फिर मेरी एंट्री रूम में हुई और वो वो तीनो भी रूम में आ गई | आप सब लोग तो सोच ही सकते हो की  कैसा माहौल हुआ होगा वहाँ  फिर भी बता देता हूँ |

मैंने भी पकड़ा एक को और किस करना शुरू कर दिया और उसके बाद दूसरी वाली  मेरे पीछे से आई और मुझे पकड़  के मेरे सीने में हाथ फेरने  लगी पहले शर्ट के ऊपर से फिर शर्ट के बटन खोल के अंदर से | और इसके बाद तीसरी लड़की आपने कपड़े उतार कर ब्रा और पैंटी में मेरे सामने डांस करने लगी | उसके  दूध जो कुछ नीले रंग के गुब्बारे से कम नहीं लग रहे थे | उसकी नीली रंग की ब्रा के ऊपर से और चिकने चिकने पैर उसको देख को मेरे लंड से रहा नहीं जा रहा था | फिर जो मेरे पीछे से मेरे सीने में हाथ फेर रही थी और जो मुझे किस कर रही थी उन दोनों ने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे सारे कपड़े उतार दिया और खुद भी पूरी नंगी हो गई | दोनों लोग मेरे लंड को चाटने लगी और मुट्ठ मरने लगी और जो लड़की डांस कर रही थी   उसको मेने आपने ऊपर बैठा लिया और उसके ब्रा के उपर से उसके दूध में हाथ फैरने लगा और फिर उसकी ब्रा को उतार के उसके बूप्स को दवाते हुए चूत में अपनी जीभ डाल कर उसे चाटने लगा | वो भी आह्ह्ह्ह अह्ह्ह उम्ह्ह्ह आहहा करने लगी और फिर मै उसको अपने नीचे लिटाया और अपना लंड धीरे धीरे उसके चूत में दर कर अंदर बाहर करने लगा और दूसरी लड़की उसके पैरों को पकड़ी हुई थी | तीसरी वाली अपने जीभ से मेरा लंड | जिसको मै चोद रहा था उसकी चूत चाटने लगी | करीब १५ मिनट तक मैंने उसको चोदा और फिर दूसरी लड़की को घोड़ी बनाकर उसकी गांड में अपना लंड घुसा कर उसे चोदना शुरू कर दिया | बाकी  दोनों लडकियाँ उसे पकड़ी हुई थी और मै बारी बारी उन दोनो के दूध दबा रहा था और चाट और चूस भी रहा था, साथ ही साथ उन दोनों को किस भी कर रहा था | मेने करीब उसको ३० मिनट तक चोदा और फिर मेरा झड़ने वाला था तो मैंने अपना लंड निकल कर जो लड़की मेरे बगल में थी उसके मुह में डाल दिया और उसके उसके मुह में डालकर जोर जोर से चोदने लगा |  उसका मुह तो पूरा लाल ही हो गया था | मैंने पूरा पानी उसके मुह में ही छोड़ दिया और वो उसे पी गई | फिर मै लेट गया और एक मेरा लंड चूस रही थी दूसरी मुझे किस कर रही थी और तीसरी मेरे सीने में बैठकर मेरे हाथो से अपने दूध दव्वा रही थी | वो तीनो गरम हो गई थी और दो झड़ भी चुकी थी | उसके बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया | जिसको मैंने नहीं चोदा था वो मुझे उठा कर मुझे किस करने लगी फिर मैंने उसको बिस्तर में सीधा लिटाया और उसके दोनों पैरो को अलग अलग कर के अपने कंधे पर रख दिए और उसकी चूत को अपने लंड से सहलाने लगा और फिर उसे चोदने शुरू कर दिया जोर जोर से | वो मजे से चिल्ला रही थी और  आह्ह्हह्ह.. अह्ह्ह…  ह़ा.. उम्हा.. कर रही थी | दूसरी की मै चूत चाट रहा था और तीसरी दूसरी वाली के ढूध दबा रही थी और उसे किस कर रही थी | मैं करीब ३०-३५ मिनट तक उसे चोदता रहा और बाकी की दोनों लडकियों को बारी बारी किस कर रहा था तो कभी उनके ढूध को दबा रहा था साथ ही साथ चूस भी रहा था | उनके  निप्पल लाल हो गए थे और मेरे जोर जोर से दवाने  के कारण उन्हें दर्द भी हो रहा था | वो खूब चिल्ला रही थी खूब अह अह अह अह कर के और एक और बार झड़ गई थी | फिर तीसरी वाली लड़की जिसे में चोद रहा था उसे किस करने लगी और उसके दूध दबाने लगी मजे लेने के लिए | इसके बाद जिसको मैं चोद रहा था उसी की चूत में मेरा झड़ गया | बाकी दो बोली ये क्या किया हम दोनों को पानी पीना था मेने कहा अब तो झड़ गया पगली | तो उन लोग मुझे वापस लेता कर मेरा लंड पकड़ कर मुट्ठ मरने लगीं, पागलो की तरह मुह में लेने लगी | 5 मिनट बाद मेरा फिर से खड़ा हो गया और वो जोर जोर से चूसने लगी जैसे ही मेरा झडा बहन चोद वो लोग कुत्ते की तरह उसे पी गई साली बड़ी मादरचोद किस्म की रंडियां थी | ऊपर वाला कभी ऐसी रंडियां किसी को चोदने को न दे बस यही मेरी तमन्ना है | मेरी तो हालत ख़राब हो गई यारों |

उसके बाद मेरी तो हालत थी नहीं कि वहां से मैं वापस आ जाऊ तो हम लोगो ने किस के एक दुसरे को और एक दुसरे लिपट कर सो गए | वहां  से मै सुबह आया अपने घर और यहाँ होती है स्टोरी ख़तम |

मेरी स्टोरी पढ़ कर क्या लगता है , तुम सब मादरचोदो लोगो को तो यही लगता होगा न की मै बड़ा खुश हूँ, मेरी लाइफ बड़ी अच्छी  चल रही होगी, रोज दारू पीना और रात में जा कर रंडियों को चुदाई करना | पता था मुझे तुम हवस के पुजारियों और कुछ नहीं सोच सकते, मैं बताता हूँ |

मैंने तो आपको एक सबक सिखाने के लिए ये स्टोरी बताई है कि कभी किसी से प्यार उसको बारे में बिना जाने मत करना वरना मेरे जैसे गांड मर जायगी | मै भी किसी से प्यार करता था पर वो मादरचोद निकली | हाँ दोस्तों  सही बात बता रहा हूँ | ये लडकियों की  चुदान में कुछ हम जैसे कम अकल के लोग ही फसते है | याद रखना ख़ैर मै तो संभल गया पर तुम लोग इस चुदान में ना फसों इसलिए बता रहा हु | ऐसी लड़कियां तो चार चार बॉयफ्रेंड घुमाने वाली होती है और कभी कभी तो ये भी भूल जाती है कि कल मै सोयी किसके साथ थी और उठ किसके साथ रही हूँ | तुम्हे क्या पता की तुम जिसको गिफ्ट और फूल देने जा रहे हो, तुम्हारे जाने से पहले कोई और उसको दे के गया हैं , क्युकि इनकी चूत जैसे सकल में नहीं लिखा होता की ये कितनी बड़ी रंडी है |

और तो और तुम्हे ऐसा लगता होगा की तुम्हारी गर्लफ्रेंड तुमसे हर बाते शेयर करती है, तो  ध्यान दें | क्या पता तुम्हारे आलावा वो किसी और से अपनी चूत भी शेयर करती हो | और बताते है | इन लड़कियों की फ्रेंड्स हम लोगो को इनके ऊपर शक करने से मना करती हैं और बोलती हैं अपना रिश्ता मजबूत करो | बहनचोद खुद के तो वैसे ही लगे है लौड़े और हमारे भी लगावा देती है | तो हमारा काम था समझाना , समझ सकते है तो आप लोग समझ जाए वरना बाद में आपको मेरी तरह कोठे में ही जाना पड़ेगा क्युकी आपको तो अपनी गर्लफ्रेंड की गांड  मारने की आदत पड़ ही गई होगी और बाद में आपको आपकी गर्लफ्रेंड के भी कही कारनामे पता चल जायंगे की वो कितनी बड़ी रंडी है और आपका भी ब्रेकअप हो जायगा और गांड मारने की आपकी रोज की आदत आपको मेरी तरह रंडी खाना ले जाया करेंगी| धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *