काम वाली की बहन को चोदा

काम वाली की बहन को चोदा

हेल्लो फ्रेंड्स कैसे हो आप लोग | आशा करता हूँ कि आप सभी लोग ठीक-ठाक होगे | दोस्तों मैं आज आप को एक नयी कहानी बताने जा रहा हूँ उससे पहले आप लोग थोडा मेरे बारे में जान लीजिये | तो मेरे प्रिय भाई लोगो मैं आप का अपना चहेता निखिल सिन्हा लखनऊ से | दोस्तों मैं कभी–कभी जब मुझे टाइम मिल जाता है तब मैं आप लोगो के लिए सेक्सी कहानिया लिखता रहता हूँ | जिसे पढ़ कर आप लोग अपने लंड से बेहतर चुदाई कर सके और मैं आप लोगो की जवानी को याद दिलाता रहूँ | दोस्तों इस कहानी में मैं आप लोगो को एक काम करने वाली बाई की बहन को चोदने के बारे में बताऊंगा |

तो चलिए दोस्तों मैं ज्यादा बकवास न करता हुआ सीधा आप लोगो को कहानी की और ले चलता हूँ |

तो मेरे प्रिय भाइयो और बहनों ये बात उस समय की है जब मेरी पढाई पूरी होने में एक साल बचा हुआ था | मैं अपनी पढाई पूरी करके बैंक में जाना चाहता था लेकिन मेरी पढाई को पूरा होने में अभी एक साल था | दोस्तों मैं अपनी पढाई अपने ही शहर में करता था | मेरा कॉलेज मेरे घर से लगभग 15 किलोमीटर दूर था | मैं अपने कॉलेज बाइक से जाया करता था और जिस कार खाली होती थी तब मैं अपनी कार से कॉलेज जाता था | मैं अपने कॉलेज का सीनियर था और प्रॉपर का भी | इसलिए लडको की मेरे से फटती भी थी और कई लड़के मेरी इज्ज़त भी करते थे | दोस्तों मेरे कॉलेज में रैगिंग का सीन बहुत होता था और ये मुझे पसंद नही था | मैं किसी की रैगिंग नही करता था और न ही किसी को करने देता था | इसको लेकर मेरी कई  बार कॉलेज के लडको के साथ बहुत गन्दी तरह से मार हुई थी | दोस्तों मैं अपने कॉलेज में सही लडको के लिए सही था और हरामी लडको के लिए बहुत हरामी था | दोस्तों कॉलेज में एक लड़की हुआ करती थी | वो मुझपे मरती थी पर मेरी तरफ से ज्यादा रेस्पोंस नही मिलता था उसको | वो दिखने में सही लगती थी | फिगर भी लगभग सही ही था | मैं ज्यादा इसको लिफ्ट नही देता था | फिर एक दिन मैं कॉलेज के बाहर खड़ा होक सिगरेट पी रहा था | वो सामने से आ रहा रही | मैं उसको नोटिस कर उसने जीन-टॉप पहन रख्खा था | मुझे वो अच्छी लगी मैं उस समय उसपे फिसल गया | मैं अगले दिन कॉलेज आया और उसको मैंने डेट के लिए बोला | वो डेट पर मेरे साथ चलने को तैयार हो गयी | मैंने उसे अपने शहर के सबसे महंगे रेस्टोरेंट में ले गया | वहां हम लोगो ने कम से कम 1 घंटा टाइम स्पेंड किया | फिर हम लोग मूवी के लिए चले गये | वहां हम लोगो ने हॉरर मूवी देखी | जब भी कोई डराने वाला सीन आता था तब वो मेरे से चिपक जाती थी | थोड़ी देर तक मैंने अपने आप को कंट्रोल किया फिर मैं भी उसके चिपकने का फायदा उठाया | अब मैंने उसे अपने आप से चिपका लिया और अब वो मूवी देख रही थी |  हम लोगो ने आधी मूवी देखी ही थी वह मूवी कुछ ज्यादा ही डरावनी थी और उसको डर लग रहा था | हम लोगो ने आधी मूवी देखि और बाहर आ गये | जब हम बाहर आये तब थोडा अँधेरा हो गया था और उसे अब अपने घर तक जाने में डर लग रहा था | मैं उसे उसके घर चोदने चला गया | रास्ते में वो मुझसे कुछ ज्यादा ही चिपक रही थी | अब वो मुझे गरम दिख रही थी वो मेरी गर्दन में अपना मुह लगा कर चूम रही थी | मैं समाज गया की ये गरम है और लंड की तलास में है | गरम मै भी हो चूका था | जब सून शान रास्ता मैंने देखा तो मैंने वहीँ गाडी रोक दी और उसका साथ देते हुए मैं भी उसे चूमने लगा | अब वो ओर तेज से मुझे लिपटने लागी और जोर-जोर से मुझे चूमने लगी | मैंने मन में सोंचा की साली कितनी गरम है ऊपर चढ़ी ही आ रही है | थोड़ी देर तक मैंने भी उसे चूमा चाटा और फिर उसकी और अपनी पेंट को उतार दिया | उसने मेरा लंड पकड़ कर सहलाने लगी और थोड़ी देर के बाद अपने मुह में रख कर चुस्सने लगी | दोस्तों मुझे मजा आ रहा था और मेरे मुह से आह आह आहा आहा अह आह आहा अह आह अह आह अ आ अह आहा अह आः आहा आहा आहा आहा उन्ह उन्ह ऊंह उह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह इह्हिह्ह आह आहाह आहाह आह आह की सिस्कारिया निकल रही थी | फिर मैंने उसे चोदने के लिए अपनी गाडी की सीट को फोल्ड किया और उसे लिटा दिया | मैंने उसकी दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख लिया और उसकी चूत में लंड डालके चोदने लगा | वो इतनी गरम थी की उसके मुह से जोर-जोर आह आह आह आहा आहा आहा आहा आहा आहा आहा आहा अह आह आहा आहा अह अह आह आहा अह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह  ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह्ह इह्ह की सिस्कारियां निकल रही थी | मैंने उस दिन उसकी चूत की गर्मी गाडी में निकाल दी थी | अब वो मुझसे जब उसका या मेरा मन कहता है तब मैं उसकी चूत को चोदता हूँ |

अब मेरे फाइनल एग्जाम पास आ गये थे और मुझे अब उनकी तैयारी करनी थी | मैंने अपने फाइनल के एग्जाम दे दिए और मुझे एग्जाम मा अच्छे नंबर भी मिल गये थे | मैंने फिर पंजाब नेशनल बैंक में अप्लाई कर दिया और अब मुझे इंटरव्यू के लिए नॉएडा जाना था | मैंने अगले दिन बस पकड़ कर नॉएडा के लिए निकल गया | मैंने अपना इंटरव्यू क्वालीफाई कर लिया था | अब मुझे अगले दिन से जोइनिंग करनी थी | मैंने नॉएडा में ही एक कमरा ले लिया और वहीँ रहने लगा | लगभग 1 महिना हो गया था मेरी बैंक में नौकरी को | जहाँ मैंने कमरा ले रखा था वहां का बहुत मस्त माहोल था | किसी भी चीज की दिक्कत नही थी | बस एक ही दिक्कत थी खाने की मैं खाना बना नही पता था और होटल पर महंगा पढता था | मेरे सामने वाले कमरे में एक पुलिस वाले साहब रहते थे | तो उनके वहां एक लड़की खाना बनाने आती थी | मैंने भी उससे अपना खाना बनाने को कह दिया | उसने अगले दिन से मेरा खाना बनाने लगी थी | वो मेरे से 1500 रूपये लेती थी | कभी कभी वो अपनी बहन को भेज देती थी खाना बनाने के लिए | उसकी छोटी बहन बहुत सुन्दर थी और फिगर भी उसका मस्त था | मैं कभी कभी उससे मौज ले लेता था | धीरे-धीरे मेरे नॉएडा में दोस्त भी बन गये थे | जब मैं 5 बजे अपने रूम पर आता था तब मैं फ्रेश होकर दोस्तों के साथ घोमने के लिए निकल जाता था | मैं वहां दारू भी पिने लगा था | हम लोग खूब मस्ती करते थे | लगभग मुझे नॉएडा में एक साल हो गया था | मेरा अब प्रमोशन हो गया था और मैंने अपने दोस्तों को और ऑफिस के लोगो को पार्टी दी थी | हम लोग उस दिन खूब मस्ती की थी और खूब दारू पीके डांस किया था |

एक दिन मैं अपने ऑफिस से अपने रूम पर आया | फ्रेश हुआ और आराम से लेता था लगभग शाम हो गयी थी | तभी मेरी मैड की छोटी ब्बाहन आ गयी थी | मैंने उसको खाना बता दिया और वह खाना बनाने लगी | वह मुझसे बात करती रहत थी | मैं उसके लिए उस दिन सूट लाया था | मैंने अपने किचेन की और गया उसको शूट दे दिया | वह यह देखकर खुश हो गयी | मैं उसे कुछ न कुछ दिया करता था | एक दिन मेरे सामने वाले पुलिस वाले साहब अपने घर गये थे | खाना बनाने के लिए उसकी छोटी बहन आयी | मेरी भी छुट्टी थी मैं रूम पर ही था | वो मेरे किचेन में आयी और पूछा की क्या बन्वायेगें आप | मैं खड़ा हुआ और उसका हाथ पकड़ कर उसको बेड पर बैठाल लिया | और उससे कहा की कुछ नही बनवाना है आज और उससे बाते करने लगा | वो मेरे इरादों को जान गयी थी पर वो भी हल्का-हल्का मुस्कुरा रही यही | मैंने फिर उसके मुह को दोनों हाथ से पकड़ का उसके होंठो को अपने मुह में रख कर चूसने लगा | थोड़ी देर तक वह मचलती रही | फिर उसने भी कुछ नही कहा | फिर मैंने उसके धीरे-धीरे सब कपडे उतार दिये और अपने भी शोर्ट उतार दिए | मैंने उसे थोड़ी देर तक चूमा-चाटा फिर उसके चूत में अपना लंड डाल कर चोदने लगा | वो मेरे से उम्र में छोटी थी इस लिए उसके मुह से जोर-जोर आह आह आहा अह आह अह आहा अह आहा अह आहा अह अ हुंह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह  ओह ओह्ह ओह होह होहोह्ह उहओह्ह आह आह आहा आहा अह आहा आहा आहा की सिस्कारियां निकाल रही थी | मेरा लंड काफी लम्बा और मोटा था | उसके बाद थोड़ी देर में हम दोनों झड गये |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | आशा करता हूँ की आप सभी को पसंद आएगी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *