चूत का दीवाना

चूत का दीवाना

desi chut हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी ? मैं आशा करता हूँ की आप सभी लोग ठीक है | आप सभी को चुदाई करना पसंद ही होगा | अगर पसंद है तो आप सभी चुदाई भी करते होंगे और मैं यही चाहता हूँ की आप सभी खूब चुदाई करो और अपनी जिंदगी में खुस रहो | दोस्तों मेरा नाम रोनी है | मैं रहने वाला बिहार के एक गाँव से हूँ | मरी हाईट 6 फुट 9 इंच है | मेरे लंड का साइज़ 8 इंच लम्बा है और 3 इंच मोटा है | मेरी पढाई पूरी हो चुकी है और मैं अपने घर ही रहता था | मेरे घर में मैं और मेरे मम्मी पापा रहते हैं | मैं अपने मम्मी पाप की इकलोती संतान हूँ | इसलिए मेरे मम्मी पापा मुझे बहुत प्यार करते हैं | मुझे चुदाई करना बहुत पसंद हैं पर मैंने कभी चूत नहीं चोदी है | मैं काफी अरसे से हिंदी सेक्सी कहानी पढता आ रहा हूँ और मुझे सेक्सी कहानियाँ पढना बहुत पसंद है | मैं सेक्सी कहानी पढ़ कर मुठ भी मारा करता हूँ | दोस्तों आज मैं एक कहानी लेकर आया हूँ | ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना भी | इससे पहले मैंने कोई कहानी नहीं लिखी है तो मेरी कहानी में कोई गलती आप सभी को नज़र आये तो मुझे माफ़ करना | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और पढने में मज़ा भी आएगा | मैं आप सभी लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये कहानी कुछ दिन पहले की है | जब मैं अपने घर रहते था उस टाइम की बात है | मेरे घर में एक लड़की रहने के लिए आई थी | उसका नाम रामिया था | वो दिखने में गोरी थी | मैं आपको उसके फिगर के बारे में बतना चाहता हूँ | उसके बड़े बड़े बूब्स और उसके बड़ी चौड़ी गांड थी | वो जब चलती थी तो उसकी गांड मचलती थी | उसकी गांड को देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता था | मैं उसे चोदना चाहता था इसलिए मैं उसे लाइन मारा करता था | वो भी मुझे प्यार से कभी कभी टाच भी करती थी | वो जब मुझे टच करती थी तो मेरा लंड खड़ा हो जाता था | कुछ दिन बाद की बात है जब मैंने उसको बता दिया की मैं तुमसे प्यार करता हूँ | फिर वो चली गयी और एक दिन उसने मेरे लंड को पेंट के ऊपर से पकड लिया तो मैंने भी उसके बूब्स को कपड़े के ऊपर से दबा दिया | इस तरह से वो मुझसे कभी कभी मजाक भी करती थी | धीरे धीरे काफी दिन निकल गए और हम मौका पाने पर किस भी कर लिया करते थे | एक दिन की बात है जब मेरे मम्मी और पापा रात को किसी की पार्टी में जा रहे थे | हम उस दिन घर में अकेले थे |

तब मैं उस मौके का फयदा उठाना चाहता था | फिर रामिया और हम एक साथ बैठे थे की रामिया मुझसे मजाक करने लगी | वो मेरे चुटी काट रही थी | मैं भी उसकी कमर को पकड कर उसकी कमर में चिपक गया और उसकी कमर में किस करने लगा | फिर मैंने उसकी होठो पर अपने होठ रख कर उसके होठो को चूसने लगा | वो मेरा साथ देती हुई मेरे होठो को चूसने लगी | मैं उसके होठो को चुसने के साथ उसके बूब्स को कपड़े के उपर से दबाने लगा | तो उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ निकल गयी | फिर मैंने उसके कपडे उतार दिए और वो सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में आ गयी | मैं उसके बूब्स को दबाते हुए उसकी ब्रा भी खोल दी | फिर मैं उसके एक दूध को अपने मुंह में भर कर चूसने लगा | तो वो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अहह उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह करती हुई अपनी चूत को सहलाने लगी | मैं उसके एक दूध को अपने मुंह में रख कर जोर जोर से चूस रहा था और एक को हाथ में पकड कर दबा रहा था | वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह करती हुई अपने दूधो को चूसाने लगी | मैं उसके दोनों दूधो को एक एक करके चूस रहा था | वो मेरे सर को सहलाते हुवे उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ करने लगी | मैं उसके बूब्स को चूसता रहा | कुछ देर तक उसके दोनों बूब्स को चूसने के बाद मैंने उसके पेंटी को निकाल दिया और उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत में अपना मुंह घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा | तो वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह अह्ह्ह करती हुई अपने बूब्स को मसलने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | मैं उसकी चूत को अपनी जीभ से चोदने लगा | तो उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह्ह उह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ लेती हुई अपनी चूत को सहलाने लगी | फिर मैंने भी उसकी चूत को चाटते हुए उसकी चूत में अपनी ऊँगली घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | तो उसके मुंह से हलकी हलकी आवाज में उह्ह्ह उफ्फ्फ अहह अह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ़ उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह करने लगी | उसके बाद मैंने अपने कपडे निकाल कर अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे लंड को अपने हाथ में पकड कर हिलने लगी और अपने मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को मुंह में अन्दर बाहर करते हुए चूसने लगी | तो मेरे मुंह से धीमी धमी आवाज में उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ निकल गयी | वो मेरे लंड को जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए चूस रही थी | मैं भी उसके मुंह में धीरे धीरे अन्दर बाहर करके उसके मुंह को चोदने लगा और साथ में उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह्ह्ह करने लगा | फिर मैंने उसके मुंह से अपने लंड को निकाल कर उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत के मुंह पर अपने लंड को रख कर धीरे धीरे उसकी चूत में घुसा दिया | तो उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उह्ह्हं अहह करती हुई अपने बूब्स को दबाने लगी | मैं उसकी चूत में धक्के मार कर चुदने लगा | मैंने उसकी चूत में धीरे धीरे धक्को को तेज कर दिए | जिससे उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह करती हुई अपनी चूत को सहलने लगी | मैं उसकी चूत को जोरदार धक्को के साथ में उसकी चूत को चोदने लगा | वो उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह अह्ह्ह्ह अहह करती हुई चुदने लगी | मैं इसी तरह से कुछ देर चोदने के बाद उसकी चूत से अपने लंड को निकाल कर बेड पर लेट गया और वो मेरे लंड पर बैठ कर चुदने लगी | वो मेरे लंड पर बैठ कर ऊपर नीचे होते हुए चोदने लगी और साथ में उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह उआअ अहह की आवाजे करती हुई जोर जोर से उछल उछल कर चुदने लगी | मैं भी उसकी चूत में नीचे से धक्के मारने लगा और कमरे में धक्को की आवाज घुजने लगी | फिर मैंने उसको जमीन में घोड़ी बना कर उसकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर जोरदर धक्को के साथ उसको चुदने लगा | तो उसके मुंह से उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ अह्ह्ह अहह अफ्फफ्फ्फ़ फ्फ्फ ऊऊउ ह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ अह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अह्ह्ह की सिसिकियाँ लेते हुए अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी | फिर मैं 40 मिनट की मस्त चुदाई के बाद मेरे लंड ने उसकी गांड पर सारा माल निकल दिया |
दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी और कहानी पढने में मज़ा भी आया होगा | मेरी कहानी पढने के लिए धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *